Cricket

Indian Cricket Team Coach List: भारतीय क्रिकेट इतिहास में अब तक के मुख्य कोच! जानें कौन रहे अब तक सबसे सफल!

×

Indian Cricket Team Coach List: भारतीय क्रिकेट इतिहास में अब तक के मुख्य कोच! जानें कौन रहे अब तक सबसे सफल!

Share this article
Indian Cricket Team Coach List
Indian Cricket Team Coach List

Indian Cricket Team Coach List: खेल के मैदान में किसी भी टीम के खिलाड़ियों पर कन्ट्रोल करने, उन्हें अनुशासन में रहने और साथ की खेल की स्किल्स के बारे में बताना एक कोच की जिम्मेदारी होती है। खेल का कोच वैसा ही होता है, जैसे किसी स्कूल में टिचर होता है।

कोच का काम टीम के खिलाड़ियों के अंदर छिपे टैलेंट को बाहर लाने और मैदान में प्रदर्शन के लिए मोटिवेट करने का काम अहम माना जाता है। इसी तरह से क्रिकेट के खेल में भी कोच का लंबा इतिहास रहा है।

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच की लिस्ट

क्रिकेट के खेल की शुरुआत में टीमों के साथ कोच नहीं हुआ करते थे। भारतीय क्रिकेट गलियारों में टीम के कोच का आगमन साल 1971 में हुआ। जब टीम के लिए पहले मुख्य कोच के रूप में केकी तारापोर जुड़े। इसके बाद से टीम इंडिया में कोच की एक लंबी लिस्ट रही है, जिसमें किसी ने जबरदस्त सफलता हासिल की, तो किसी के मार्गदर्शन में टीम का प्रदर्शन काफी खराब रहा।

तो चलिए आज हम इस आर्टिकल में टीम इंडिया के कोच की बात करते हैं, जिसमें आपको बताते हैं भारतीय क्रिकेट में पहले कोच से लेकर आज तक के मुख्य कोच की लिस्ट और साथ ही बताते हैं, कौन-कौन से वो मुख्य कोच रहे हैं, जिन्हें जबरदस्त चर्चा मिली।

क्रसं.टीम इंडिया के मुख्य कोचकार्यकालदेश
1केकी तारापोर1971भारत
2हेमु अधिकारी1971 – 1974भारत
3गुलाब राय रामचंद1975भारत
4दत्ता गायकवड़1978भारत
5सलीम दुर्रानी1980 – 1981भारत
6अशोक मांकड़1982भारत
7पीआर मान सिंह1983 – 1987भारत
8चंदू बोर्डे1988 – 1989 & 2007भारत
9बिशन सिंह बेदी1990 – 1991भारत
10अब्बास अली बेग1991 – 1992भारत
11अजीत वाडेकर1992 – 1996भारत
12संदीप पाटिल1996भारत
13मदन लाल1996 – 1997भारत
14अंशुमान गायकवड़1997 – 1999भारत
15कपिल देव1999- 2000भारत
16जॉन राइट (पहले विदेशी कोच)2000 – 2005न्यूजीलैंड
17ग्रेग चैपल2005 – 2007ऑस्ट्रेलिया
18रवि शास्त्री2007, 2015 (अंतरिम कोच) 2017- 2021(फुल टाइम कोच)भारत
19लालचंद राजपूत (अंतरिम कोच)2007 – 2008भारत
20गैरी कर्स्टन2008 – 2011दक्षिण अफ्रीका
21डंकन फ्लेचर2011 – 2015जिम्बाब्वे
22संजय बांगड़ (अंतरिम कोच)2016भारत
23अनिल कुंबले2016 – 2017भारत
24राहुल द्रविड़2021-2023भारत
  • केकी तारापोर- भारतीय क्रिकेट इतिहास के पहले कोच रहे हैं। भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले इस दिग्गज ने भारत के महान खिलाड़ी रहे अनिल कुंबले और राहुल द्रविड़ जैसे खिलाड़ियों को कोचिंग दी है।
  • अजीत वाडेकर- टीम इंडिया के पहले वनडे कप्तान अजीत वाडेकर रहे थे, जो 1992 के वर्ल्ड कप में भारतीय क्रिकेट टीम की मुख्य कोच के रूप में रहे थे।
  • संदीप पाटिल- भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 1996 में एशिया में खेले गए वर्ल्ड कप में पूर्व ऑलराउंडर खिलाड़ी संदीप पाटिल हेड कोच के रूप में टीम के साथ जुड़े थे।
  • कपिल देव- भारत को पहला वनडे वर्ल्ड कप का खिताब दिलाने वाले पूर्व महान ऑलराउंडर खिलाड़ी कपिल देव भारतीय क्रिकेट टीम के कोच भी रहे हैं। वो इंग्लैंड में खेले गए 1999 के वर्ल्ड कप में टीम के लिए कोच के रूप में गए थे। जहां भारत का प्रदर्शन काफी खराब रहा था।
  • जॉन राइट- भारतीय क्रिकेट में 2000 में उठे मैच फिक्सिंग कांड के बाद बड़ा बदलाव करते हुए 2001 में न्यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर जॉन राइट को मुख्य कोच नियुक्त किया। जॉन राइट भारत के क्रिकेट इतिहास में पहले विदेशी कोच के रूप में याद किए जाते हैं। इस कीवी दिग्गज ने अपने कोचिंग कार्यकाल में भारत को 2003 के वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचाया था और वो सबसे लंबे समय 5 साल तक टीम को कोच रहे।

ग्रेग चैपल

भारतीय क्रिकेट इतिहास में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज और कप्तान रहे ग्रैग चैपल के कोचिंग कार्यकाल में सबसे ज्यादा विवाद रहे। इस कोच को भारतीय क्रिकेट को बांटनें के लिए जाना जाता है। सौरव गांगुली से तकरार ग्रैग चैपल के कोचिंग कार्यकाल में सबसे बड़ा विवाद रहा था।

लालचंद राजपूत

भले ही लालचंद राजपूत भारतीय क्रिकेट टीम के लिए फुलटाइम कोच नहीं रहे हैं। लेकिन 2007 में भारत के वनडे वर्ल्ड कप में हार के बाद उन्हें बतौर अंतरिम कोच के रूप में टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम के साथ भेजा गया था, जहां उन्होंने भारत को खिताब दिलाया।

गैरी कर्स्टन

भारतीय क्रिकेट टीम में इनसे बड़ा कोच कोई नहीं हुआ है। इस दक्षिण अफ्रीकी पूर्व दिग्गज बल्लेबाज ने 2008 से 2011 तक टीम के मुख्य कोच का पद संभाला, इस दौरान उनके मार्गदर्शन में 2011 के वर्ल्ड कप में जीत हासिल की।

Indian Cricket Team Coach List: रवि शास्त्री

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व बल्लेबाज रवि शास्त्री पहली बार कोच के रूप में 2007 में टीम से जुड़े, तब वो कुछ समय के लिए अंतरिम कोच रहे। इसके बाद रवि शास्त्री ने 2017 में फुलटाइम कोचिंग संभाली। उनके कार्यकाल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में जाकर 2 बार टेस्ट सीरीज अपने नाम की, जो बड़ी उपलब्धि रही है। रवि शास्त्री 2019 वर्ल्ड कप के बाद फिर से टीम के मुख्य कोच चुने गए थे, जो 2021 तक टीम के कोच रहे।

  • अनिल कुंबले- भारत के पूर्व महान लेग स्पिन गेंदबाज अनिल कुंबले ने भी 2016-17 में टीम इंडिया के कोचिंग का काम संभाला। इनके अंडर टीम ने अच्छी सफलता हासिल की, लेकिन उस वक्त के टीम के कप्तान विराट कोहली के साथ विवाद की खबरें भी चरम पर रही। इसी वजह से 2017 की चैंपियंस ट्रॉफी के बाद उन्होंने कोच पद छोड़ दिया।
  • राहुल द्रविड़- टीम इंडिया के वर्तमान कोच राहुल द्रविड़ हैं। इन्होंने 2021 में भारतीय टीम के कोच का पद संभाला। भारत के महान बल्लेबाज रहे राहुल द्रविड़ की कोचिंग में भारत को कईं सफलता मिली, लेकिन साथ ही इनके नाम कईं असफलता भी जुड़ी हैं।

इसे भी पढ़ें>>>

Team India Players Jersey No. : भारतीय क्रिकेट टीम के 1 से 100 नंबर की जर्सी के खिलाड़ी

3rd Test INDvsENG
Sports

3rd Test INDvsENG: भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज शिखर धवन पर अब भारतीय टीम के चयनकर्ता मेहरबान हो गए हैं। माना जा रहा है की…

T20 World Cup 2024: Found a player like Yuvraj Singh! He will have to remain out of the team in the World Cup!
Sports

T20 World Cup 2024: वर्ल्ड कप 2024 में अब कुछ ही महीने बाकी है। ऐसे में अब चयनकर्ताओं का सर दर्द बढ़ा हुआ है। भारतीय…

Team Selecter
Sports

Team Selector: भारतीय टीम के चयनकर्ता पर इन दोनों सवाल खड़े हो गए हैं। ऐसा इसलिए कि उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ होने वाले टेस्ट के…

IND vs AFG: After Naveen Ul Haq and Virat Kohli, now Afghanistan players face Rinku Singh!
Sports

IND vs AFG: विराट कोहली और नवीनुल हक के बीच आईपीएल में ही नोंकझोग हो गई थी। जिसको लेकर इस बात की चर्चा थी कि…

IND vs AFG T20: India's star batsman Virat Kohli out in the first T20 match against Afghanistan!
Sports

IND vs AFG T20: भारत और अफगानिस्तान के बीच खेले जाने वाले पहले T20 मुकाबले में आज दोनों ही टीमों का आमना-सामना होना है। इससे…